UP Police Paper Leak Case 2024: यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक के मास्टरमाइंड को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में अब तक 300 से अधिक लोगों को यूपी पुलिस और एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार किया गया है।

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था उप्र/एसटीएफ अमिताभ यश ने प्रेसवार्ता कर मामले की जानकारी दी है। (स्त्रोत- आधिकारिक ‘एक्स/यूपीपी’)अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था उप्र/एसटीएफ अमिताभ यश ने प्रेसवार्ता कर मामले की जानकारी दी है। (स्त्रोत- आधिकारिक ‘एक्स/यूपीपी’)

Abhay Pratap Singh | April 3, 2024 | 10:49 PM IST

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले के मुख्य आरोपी राजीव नयन मिश्रा को उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (यूपी एसटीएफ) ने गिरफ्तार कर लिया है। यूपी पुलिस और एसटीएफ द्वारा आरोपी की तलाश में कई दिनों से छापेमारी की जा रही थी।

बताया गया कि यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 2023 पेपर लीक के मुख्य आरोपी को पहले भी कई बार पेपर लीक मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। यूपी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 17 और 18 फरवरी 2024 को आयोजित की गई थी।

पेपर लीक का मामला सामने आने के बाद यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा को रद्द कर दिया गया है। मामले में 300 से अधिक संदिग्धों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वहीं, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने 6 माह के भीतर दोबारा यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा कराने की बात कही थी।

इस भर्ती अभियान के तहत उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड (यूपीपीआरपीबी) द्वारा प्रदेश में कुल 60,242 कांस्टेबल के पदों को भरा जाना था। यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में 48 लाख से अधिक उम्मीदवार शामिल हुए थे।

Also readUP Police Constable Exam: यूपी पुलिस कांस्टेबल परीक्षा रद्द, 6 महीने के अंदर दोबारा होगा एग्जाम, सीएम का ऐलान

उत्तर प्रदेश कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामला सामने आने के बाद यूपीपीआरपीबी की महानिदेशक रेणुका मिश्रा को उनके पद से हटा दिया गया। वही, कांस्टेबल भर्ती परीक्षा रद्द करते हुए यूपी सरकार ने एसटीएफ को मामले की जांच सौंप दी थी।

यूपी एसटीएफ की जांच में सामने आया कि यूपी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर कथित तौर पर एक प्रिंटिंग प्रेस के माध्यम से लीक हुआ था। पेपर के प्रिंटिंग प्रेस से निकलने और परिवहन कंपनी के पास पहुंचने के बाद आरोपियों द्वारा पेपर लीक किया गया था।

यूपी पुलिस के आधिकारिक ‘एक्स’ (पूर्व में ट्विटर) हैंडल पर आज यानी 3 अप्रैल को अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था उ.प्र./एसटीएफ अमिताभ यश ने उत्तर प्रदेश आरक्षी नागरिक पुलिस परीक्षा- 2023 पेपर लीक की घटना के मुख्य अभियुक्त राजीव नयन मिश्रा की गिरफ्तारी के संबंध में जानकारी साझा की है।

Download Our App

Start you preparation journey for JEE / NEET for free today with our APP

  • Students250M+Students
  • College30,000+Colleges
  • Exams500+Exams
  • Ebooks1500+Ebooks
  • Certification12000+Certifications