UGC MOOCs: यूजीसी-स्वयं ने शुरू किए दो नए कोर्स, आर्कटिक क्षेत्र, जलवायु विज्ञान की देंगे जानकारी

यूजीसी अध्यक्ष जगदीश कुमार ने कहा कि मौसम के बदलते मिजाज के वैश्विक परिणाम होते हैं, जो मानसून चक्र से लेकर समुद्र के बढ़ते स्तर तक सब कुछ प्रभावित करते हैं।

यूजीसी-स्वयं की तरफ से शुरू दोनों शैक्षिक पाठ्यक्रम निःशुल्क हैं। (प्रतीकात्मक-शटरस्टॉक)यूजीसी-स्वयं की तरफ से शुरू दोनों शैक्षिक पाठ्यक्रम निःशुल्क हैं। (प्रतीकात्मक-शटरस्टॉक)

Saurabh Pandey | June 18, 2024 | 06:40 PM IST

नई दिल्ली : यूजीसी और स्वयं ने मिलकर आर्कटिक क्षेत्र और भारत सहित दुनिया पर इसके प्रभाव के बारे में जागरूकता प्रदान करने के लिए दो नए नि:शुल्क पाठ्यक्रम की शुरुआत की है। प्रत्येक पाठ्यक्रम की अवधि 15 सप्ताह है, और प्रत्येक पाठ्यक्रम में 4 क्रेडिट हैं। इन पाठ्यक्रमों का उपयोग स्नातक (यूजी) और स्नातकोत्तर (पीजी) दोनों कार्यक्रमों के लिए किया जा सकता है।

पाठ्यक्रम जुलाई 2024 सेमेस्टर के लिए SWAYAM प्लेटफॉर्म पर पंजीकरण के लिए www.swayam.gov.in पर उपलब्ध हैं। एमओओसी 18 जुलाई, 2024 से शुरू होंगे। यह पहल राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुरूप है, जिसका लक्ष्य विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में वैज्ञानिक जागरूकता को बढ़ावा देने और ध्रुवीय अनुसंधान और जलवायु विज्ञान में ज्ञान को आगे बढ़ाने के लिए सर्वोत्तम ऑनलाइन पाठ्यक्रम प्रदान करना है। यूजीसी विषय विशेषज्ञ समिति ने भारत की आर्कटिक नीति के छह स्तंभों से मेल खाने वाले पाठ्यक्रमों का चयन किया है।

Also read UGC NET Exam 2024 Live: यूजीसी नेट शिफ्ट 1 एग्जाम एनालिसिस, गाइडलाइन्स, प्रश्न पत्र, आंसर की, कटऑफ जानें

यूजीसी अध्यक्ष जगदीश कुमार ने कहा कि मौसम के बदलते मिजाज के वैश्विक परिणाम होते हैं, जो मानसून चक्र से लेकर समुद्र के बढ़ते स्तर तक सब कुछ प्रभावित करते हैं। वैश्विक बातचीत और हमारे देश में आर्कटिक की महत्वपूर्ण भूमिका को ध्यान में रखते हुए, आर्कटिक पर पाठ्यक्रम हमारे युवाओं के लिए एक मूल्यवर्धन है। ये पाठ्यक्रम क्रेडिट-योग्य हैं, और विश्वविद्यालयों के पास पाठ्यक्रम के अपने पसंदीदा डिज़ाइन के अनुसार इन्हें एकीकृत करने की सुविधा है।

Download Our App

Start you preparation journey for JEE / NEET for free today with our APP

  • Students300M+Students
  • College36,000+Colleges
  • Exams550+Exams
  • Ebooks1500+Ebooks
  • Certification16000+Certifications