Delhi University: डीयू ने दोगुना किया मार्कशीट, डिग्री सर्टिफिकेट सुधार शुल्क; जानें वजह

आदेश के अनुसार, डीयू ने स्नातक की तारीख से 6 साल के भीतर मार्कशीट में सुधार कराने वालों के लिए शुल्क 500 रुपये से बढ़ाकर 1,000 रुपये कर दिया है

समिति की सिफारिशों को संबंधित अधिकारियों ने 4 जून को मंजूरी दे दी (इमेज-पीटीआई)समिति की सिफारिशों को संबंधित अधिकारियों ने 4 जून को मंजूरी दे दी (इमेज-पीटीआई)

Press Trust of India | July 6, 2024 | 09:38 PM IST

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने अपने डिग्री सर्टिफिकेट या मार्कशीट में किसी भी तरह के सुधार की मांग करने वालों के लिए शुल्क दोगुना कर दिया है। आधिकारिक आदेश के अनुसार, विश्वविद्यालय के कुलपति योगेश सिंह द्वारा गठित समिति की सिफारिशों के बाद शुल्क में वृद्धि की गई है।

आदेश के अनुसार, डीयू ने स्नातक की तारीख से 6 साल के भीतर मार्कशीट में सुधार कराने वालों के लिए शुल्क 500 रुपये से बढ़ाकर 1,000 रुपये कर दिया है और 6 साल से अधिक की अवधि के लिए 1,000 रुपये से बढ़ाकर 2,000 रुपये कर दिया है।

इसके अलावा, दिल्ली विश्वविद्यालय ने 6 साल के भीतर अपने डिग्री प्रमाण पत्र में सुधार कराने वालों के लिए शुल्क 500 रुपये से बढ़ाकर 1,000 रुपये कर दिया है। साथ ही 6 साल से अधिक की अवधि के लिए शुल्क 1,000 रुपये से बढ़ाकर 2,000 रुपये कर दिया गया है।

आदेश में कहा गया है कि समिति की सिफारिशों को संबंधित अधिकारियों ने 4 जून को मंजूरी दे दी। इस घटनाक्रम के बारे में पूछे जाने पर डीयू के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि फीस में बढ़ोतरी इसलिए की गई क्योंकि लंबे समय से इसमें संशोधन नहीं किया गया था।

इसके साथ ही अधिकारी ने यह भी बताया कि यदि अभ्यर्थी की डुप्लीकेट मार्कशीट और डिग्री प्रमाण पत्र खो जाता है या नष्ट हो जाता है तो नया प्रमाण पत्र जारी करने के लिए शुल्क क्रमशः 500 रुपये और 1,000 रुपये पहले की तरह ही रहेगा।

Download Our App

Start you preparation journey for JEE / NEET for free today with our APP

  • Students300M+Students
  • College36,000+Colleges
  • Exams550+Exams
  • Ebooks1500+Ebooks
  • Certification16000+Certifications