NTA Chief: एनटीए के महानिदेशक बने आईएएस प्रदीप सिंह खरोला, सुबोध कुमार सिंह हटाए गए

आईएएस प्रदीप सिंह खरोला जो वर्तमान में भारत व्यापार संवर्धन संगठन (आईटीपीओ) के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं, स्थायी नियुक्ति होने तक काम करेंगे।

निवर्तमान डीजी सुबोध कुमार सिंह को कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग में अनिवार्य प्रतीक्षा पर रखा गया है।निवर्तमान डीजी सुबोध कुमार सिंह को कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग में अनिवार्य प्रतीक्षा पर रखा गया है।

Saurabh Pandey | June 22, 2024 | 10:31 PM IST

नई दिल्ली : कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) ने अतिरिक्त प्रभार के आधार पर प्रदीप सिंह खरोला को राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) का महानिदेशक नियुक्त किया है। एनटीए के पूर्व महानिदेशक, आईएएस, सुबोध कुमार सिंह को कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग में 'अनिवार्य प्रतीक्षा' पर रखा गया है।

सरकार की तरफ से शनिवार को एक अधिसूचना में कहा गया है कि कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने प्रदीप सिंह खरोला को शिक्षा मंत्रालय, राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी के महानिदेशक के पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

शिक्षा मंत्रालय ने एनटीए के माध्यम से परीक्षाओं के पारदर्शी, सुचारू और निष्पक्ष संचालन को सुनिश्चित करने के लिए एक उच्च स्तरीय समिति का भी गठन किया है। समिति की अध्यक्षता भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के पूर्व अध्यक्ष और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) कानपुर में बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के अध्यक्ष के राधाकृष्णन करेंगे।

समिति में शामिल सदस्य

  • डॉ. के. राधाकृष्णन, पूर्व अध्यक्ष, इसरो और अध्यक्ष बीओजी, आईआईटी कानपुर समिति के अध्यक्ष होंगे।
  • डॉ.रणदीप गुलेरिया, पूर्व निदेशक, एम्स दिल्ली - सदस्य
  • प्रो. बी जे राव, कुलपति, सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ हैदराबाद - सदस्य
  • प्रो. राममूर्ति के, प्रोफेसर एमेरिटस, सिविल इंजीनियरिंग विभाग, आईआईटी मद्रास - सदस्य
  • पंकज बंसल, सह-संस्थापक, पीपल स्ट्रॉन्ग और बोर्ड सदस्य- कर्मयोगी भारत - सदस्य
  • प्रो.आदित्य मित्तल, डीन स्टूडेंट अफेयर्स, आईआईटी दिल्ली - सदस्य
  • गोविंद जयसवाल, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार - सदस्य सचिव

Also read NEET UG, UGC NET 2024: पेपर लीक रोकने के लिए लोक परीक्षा कानून लागू, कांग्रेस बोली- 'डैमेज कंट्रोल' की कोशिश

यूजीसी अध्यक्ष ने बताया स्वागत योग्य कदम

यूजीसी अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने कहा कि डॉ. के. राधाकृष्णन की अध्यक्षता में विशेषज्ञों की एक उच्च-स्तरीय समिति का गठन प्रवेश परीक्षाओं के पारदर्शी, सुचारू और निष्पक्ष आचरण को सुनिश्चित करने की दिशा में एक स्वागत योग्य कदम है। परीक्षा प्रक्रिया में सुधारों की सिफारिश करने, डेटा सुरक्षा प्रोटोकॉल को बढ़ाने और एनटीए की संरचना और कामकाज में सुधार पर समिति का जोर हमारी राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा प्रणाली को मजबूत करेगा। छात्रों के हित और उनके भविष्य की रक्षा हमारी प्राथमिकता है।


Download Our App

Start you preparation journey for JEE / NEET for free today with our APP

  • Students300M+Students
  • College36,000+Colleges
  • Exams550+Exams
  • Ebooks1500+Ebooks
  • Certification16000+Certifications