IAF Agniveer Recruitment 2024: आईएएफ अग्निवीर भर्ती के लिए अधिसूचना जारी, 8 जुलाई से पंजीकरण शुरू

आईएएफ अग्निवीर भर्ती 2024 के तहत उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट agnipathvayu.cdac.in के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भर सकेंगे।

आईएएफ अग्निवीर वायु भर्ती परीक्षा 18 अक्टूबर 2024 को आयोजित की जाएगी। (स्त्रोत-आधिकारिक 'एक्स IAF')आईएएफ अग्निवीर वायु भर्ती परीक्षा 18 अक्टूबर 2024 को आयोजित की जाएगी। (स्त्रोत-आधिकारिक 'एक्स IAF')

Abhay Pratap Singh | June 17, 2024 | 08:14 AM IST

नई दिल्ली: भारतीय वायु सेना (IAF) ने अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीर वायु के चयन के लिए आधिकारिक अधिसूचना जारी कर दी है। वायुसेना अग्निवीर भर्ती 2024 के तहत इच्छुक और योग्य अविवाहित भारतीय पुरुष और महिला उम्मीदवार आवेदन के लिए पात्र होंगे।

आईएएफ अग्निवीर भर्ती 2024 के तहत पंजीकरण प्रक्रिया 8 जुलाई से ऑनलाइन माध्यम में शुरू की जाएगी। उम्मीदवार आईएएफ की ऑफिशियल वेबसाइट agnipathvayu.cdac.in पर जाकर आवेदन फॉर्म भर सकते हैं। IAF अग्निवीर 2024 आवेदन फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 28 जुलाई तय की गई है।

अग्निवीर वायु भर्ती 2024 के तहत आवेदन करने वाले उम्मीदवारों का जन्म 3 जुलाई 2004 से 3 जनवरी 2008 के बीच हुआ हो। यदि कोई अभ्यर्थी चयन प्रक्रिया के सभी चरणों को उत्तीर्ण कर लेता है, तो नामांकन की तिथि पर अधिकतम आयु सीमा 21 वर्ष होनी चाहिए।

IAF अग्निवीर पंजीकरण के लिए उम्मीदवारों को 550 रुपये आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा। आवेदन प्रक्रिया समाप्त होने के बाद IAF अग्निवीर 2024 परीक्षा 18 अक्टूबर को आयोजित होगी। अग्निवीर वायु भर्ती से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए कैंडिडेट आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

Also readAgneepath Scheme: अग्निपथ योजना वापस लेने की एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने राजनीतिक दलों से अपील की

IAF Agniveer 2024: शैक्षणिक योग्यता

इंडियन एयर फोर्स अग्निवीर वायु भर्ती 2024 के तहत आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को पात्रता मानदंड अच्छे से पढ़ लेना चाहिए:

अभ्यर्थियों को केंद्र, राज्य या केंद्र शासित प्रदेश सरकारों द्वारा मान्यता प्राप्त शिक्षा बोर्ड से गणित, भौतिकी और अंग्रेजी विषयों के साथ कक्षा 12वीं या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए, जिसमें कुल मिलाकर न्यूनतम 50% अंक और अंग्रेजी में 50% अंक होने चाहिए। (अथवा)

मान्यता प्राप्त पॉलिटेक्निक संस्थान से इंजीनियरिंग (मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑटोमोबाइल, कंप्यूटर विज्ञान, इंस्ट्रूमेंटेशन टेक्नोलॉजी या सूचना प्रौद्योगिकी) में 50% अंकों में तीन वर्षीय डिप्लोमा होना चाहिए, जिसमें अंग्रेजी में 50% अंक हो। यदि डिप्लोमा कोर्स में अंग्रेजी विषय नहीं था तो इंटर/मैट्रिक्स में 50% अंक अंग्रेजी विषय में होने चाहिए। (अथवा)

मान्यता प्राप्त शिक्षा बोर्ड से भौतिकी और गणित जैसे गैर-व्यावसायिक विषयों के साथ दो वर्षीय व्यावसायिक पाठ्यक्रम न्यूनतम 50% अंकों में पूरा किया हो। व्यावसायिक पाठ्यक्रम में अंग्रेजी में कम से कम 50% अंक होने चाहिए। यदि व्यावसायिक पाठ्यक्रम में अंग्रेजी विषय नहीं है, तो इंटरमीडिएट या मैट्रिकुलेशन में 50 प्रतिशत अंक अंग्रेजी में हो।

Download Our App

Start you preparation journey for JEE / NEET for free today with our APP

  • Students300M+Students
  • College36,000+Colleges
  • Exams550+Exams
  • Ebooks1500+Ebooks
  • Certification16000+Certifications